मेंढकों का क्रेजी एडवेंचर भाग – 5

भाग 5- अंतिम अध्याय

यह सब देख के ड्रैगनफ्लाई को लगता है
क्यूंकि यह सब उसीका प्लान होता है
तभी ड्रैगनफ्लाई को एक दूसरा प्लान सूझता है
वो अपने सारे ड्रैगनफ्लाई को बुलाता है
और उन सबको कहानी मेंढको की
दूसरा मेंढक मेरी गलती के वजह है
वो उन सभी ड्रैगनफ्लाई से कहता है
की अगर हम सब तेज़ी से स्पाइडर के जाले
में जाके चिपक जाए तो उसका जाला हम सब
लोग को संभल नहीं पायेगा और टूट जायेगा
तो उन सभी ड्रैगनफ्लाई को बोलता है ऐसा करने के लिए
लेकिन सभी ड्रैगनफ्लाई को इसका आईडिया फालतू लगता है
और अपने मर खतरा भी लगता है तो
इसीलिए सभी ड्रैगनफ्लाई ने इसका आईडिया फालतू बोल के मना कर देते है ऐसा कुछ करने के लिए।
लेकिन ४ छोटे छोटे ड्रैगनफ्लाई को उसका पसंद आता है और
वो उस ड्रैगनफ्लाई को बोलता है वह उसके साथ है।
और सभी ड्रैगनफ्लाई उन सबको बेवकूफ बोलके वहा से जाने का सोचते है
तब वो ४ ड्रैगनफ्लाई वो ड्रैगनफ्लाई को बोलते है पूरी तेज़ी से जाके उसका जाला
तोड़ देंगे
लेकिन वो ड्रैगनफ्लाई बोलता है हम ५ मिलके उसका जाला नहीं तोड़ पाएंगे
वो चारो ड्रैगनफ्लाई अपने में बात करते है
और तेज़ी से स्पाइडर के जाले की और जाते है और उसके जले में जाके चिपक जाते है लेकिन उसके जले को कुछ नहीं होता
यह सब देख के वो ड्रैगनफ्लाई और टेंशन में आ जाता है
पाहिले तो मेरे वजह से एक मेंढक की जान गयी लेकिन
अब तो चार ड्रैगनफ्लाई भी मेरे वजह से मारे गए
अब यह सब देख के वो अपने आप को मारना चाहता है
और वो भी जाके उस स्पाइडर के जाले में चिपक जाता है
तो यह सब देख खुश हो जाता है
और सोचता है आज तो मेरी दावत है लगता है।
तब स्पाइडर अपने जले के पास जा रहा है
सब ड्रैगनफ्लाई ये सब देखते रहते है
तभी एक ड्रैगनफ्लाई को वो अच्छा नहीं लगता और
वो भी तेज़ी से जाके स्पाइडर के जले में चिपक जाता है
ऐसे ही देखते देखते सब ड्रैगनफ्लाई तेज़ी से स्पाइडर के जाले में चिपक जाते है
और एक समय आता है जहा पे जाला इतना सारा वजन
नहीं उठा पाता और स्पाइडर का जाला टूट जाता है
और मेंढक और स्पाइडर सब ज़मीन पे गिर ते है
यह सब देख के मेंढक बहुत खुश हो जाते है
और उन सभी स्पाइडर को शुक्रिया कहते है
कहते है शुक्रिया हमे नहीं तुम्हारे दोस्त ड्रैगनफ्लाई को कहो
उसीने हमे यह सब करने को कहा
तब लड़का मेंढक बहुत ख़ुशी से कहता है
तुम्हारे जैसा दोस्त सबके नसीब में हो
और ऐसा कहके वो दोनों उस जगह से चले जाते है
और ख़ुशी ख़ुशी ख़ुशी बिताने लगते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *