गलत नजरिया

एक लड़का अपने बाप को अपने माता को अपने आजु बाजू पडोसी को बड़े गलत अंदाज़ में जवाब देता है तो उसके ममता पिता और उसके आजु बाजू वाले पडोसी बोलते है उस लड़के को ऐसे नहीं बोलते लेकिन वो नहीं सुधरता वह ऐसे ही तरीके से सब से बात करता रहता तब उस लड़के को एक लड़की से प्यार हो जाता है.

लेकिन लड़के को भी पता था वो जिस तरह से बात करता है उसके वजह से वो लड़की उससे नहीं पटेगी क्यूंकि वह लड़की अपने वेकेशन मानाने के लिए अपने मांमाँ के घर आती है और उसके मां उससे बहुत परेशान है और पसंद नही करते उस लड़के का घर पर आना.

वह लड़की बाहार जाती है तभी वह लड़का भी बाहर आता है उस लड़की के पीछे पीछे चलता है और वही घीसे पीते डायलाग मारता है मेने तुम्हे किसी पार्टी में देखा है तब वो लड़की कहती है अबे पाण्डु ये सब डायलाग किसी और लड़कियों को मार मेंरे जैसे लड़कियों को नहीं.

वो जब देखता है यह लड़की मेरे जैसे लैंग्वेज में बात लरटी है तो वह लड़का भी अपने ओरिजिनल भासा में बात करता है वही चपरी वाला और वो लड़की भी उससे चपरि वाली भासा में बात करती रहती है.

वो लड़की बहुत संस्कारी घर की रहती है और बहुत अच्छे भासा में बात करने वाली रहती है लेकिन उसके मांमाँ ने उसे पाहिले ही बोल दिया था इस लड़के के बारे में इसलिए वो उससे ऐसे बात कर रही थी .

लास्ट म वह लड़की उससे बात करके समाज झाती है यह लड़का बहुत अच्छा है सिर्फ इसकी जुबान गन्दी है तो वो लड़की उसके ही स्टाइल में कहती है तुम अच्छी भासा में बात क्यों नहीं करते तुम्हारी सोच इतनी अच्छी है जुबान भी अच्छी हो जाती तब तुम्हारे माँ बाप बहुत खुश हो जाते.

तो यह सब सुन के लड़के ने कहा मेरे बाओ ने दूसरी शादी कर्ली इसलिए में ऐसे भासा में बात करतकर्ता हु मेरी माँ जैसे ही मरी उसने दूसरी शादी कर्ली तब से जब भी मेरी नयी मम्मी सामने आती है मेरी जुबान ऐसे हो जाती है.

तब उस लड़की ने उसे समझाया और कहा इसमें तुम्हारी नयी मम्मी की क्या गलती है वह तो अपना काम कर रही है तुम उसके बेटे भी नहीं हो फिर भी तुम्हे खाना बनाकर खिलखिला रही है तुम्हे अपनी माँ के मर ने के बाद एक नयी मम्मी मिली है इसकी ख़ुशी बनाओ. यह सब सुनाके वो लड़के की आँख खुल गयी और तब से वो सबसे अच्छी तरीके से बात करने लगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *